Interesting facts about Bears in Hindi


Interesting facts about Bears in Hindi (भालुयों के बारे में रोचक तथ्य)

भालू या रीछ उरसीडे परिवार का एक स्तनधारी जानवर है. हालांकि इसकी सिर्फ आठ ज्ञात जातियाँ है. इसका निवास पूरी दुनिया में बहुत ही विस्तृत है. यह एशिया, युरोप, उत्तर अमेरिका और दक्षिण अमेरिका के महाद्वीपों में पाया जाता है. आइए इस जीव के बारे में बहुत ही मजेदार रोचक तथ्य जानें-

  1. अब तक का सबसे बड़ा माँसाहारी स्तनपायी जीव दैत्य छोटे मुँह वाला भालू या रीछ था जो कि 12000 साल पहले लुप्त हो गया था. इसके कंकाल से पता चलता है कि अगर यह अपने चारों पैरो पर खड़ा हो जाए तो यह 6 फुट 5 इंच लंम्बा होगा जो आधुनिक भालु से दोगुना है.
  2. दक्षिणी अमेरिकी भालु की खाल सबसे ज्यादा खुरदरी होती है. पर जो सुर्य भालु होता है उसकी सबसे कम खुरदरी होती है. इससे सुर्य भालू दक्षिण पक्ष्चिमी ऐशिया के गर्म जंगलों में अपने आप को ठंडा रखते हैं.
  3. किसी भालु के दांतो में छोटे-छोटे छल्लों की माइक्रोस्कोप की सहायता से गणना करके उसकी आयु का अंदाजा लगाया जा सकता है.
  4. भालुयों के खालों की परते होती है. छोटी परत उसे गर्म रखती है जबकि बड़ी परत उसकी चमड़ी और खाल की छोटी परत को पानी से बचाती है.
  5. भालु बहुत ही बुद्धीमान जीव होते है. अगर किसी शिकारी ने इनका शिकार करने के लिए कोई चारा डाला हो तो भालु इसे अच्छी तरह से समझ जाते हैं और चारा सावधानी पुर्वक खाते हैं.
  6. जंगल के भालु तीस साल की आयु तक जीते है जबकि बंदी भालु(जिन्हें मानव द्वारा कैद किया गया है) 47 साल तक जी सकते हैं.
  7. भालुयों की टांगे कमान जैसी होती है. यह इनकी पकड़ और संतुलन को ओर बेहतर बनाते है.
  8. केवल ध्रुवीय भालु ही पूरे माँसाहारी होते है जबकि बाकी के सारे भालु सर्वभक्षी अर्थात जानवर और पौधे दोनो खाने वाले होते हैं.
  9. सुर्य भालुयों के पंजे सबसे ज्यादा बड़े होते है. इसके इलावा इनकी जीभ भी सबसे लंम्बी होती है जो कि साढ़े 9 इंच तक पहुँच जाती है.
  10. भालु 64 किलोमीटर प्रति घंटे की रफतार से भाग सकते है जो कि एक दौड़ते धोड़े को पकड़ने के लिए पर्याप्त है. सबसे तेज मनुष्य जो अब जीवित है मतलब कि युसेन बोल्ट वह 43 किलोमीटर प्रति घंटा की रफतार से दौड़ सकते हैं.
  11. एक साधारण भालू की हृदय गति 40 प्रति मिनट होती है जबकि एक शीतकालीन नींद में सो रहे भालु की हृदय गति 8 प्रति मिनट होती है.
  12. कुछ भालु अपनी पिछली दोनों टागों पर चल सकते है. इसलिए कभी दूर से देखने पर वह ऐसे लगते हैं जैसे कि कोई मनुष्य विचित्र ढंग से चल रहे हों.
  13. काले भालु पूरी तरह से काले नही होते बल्कि यह कुछ इंन्द्रधनुष जैसे होते है इसकी चमड़ी काली से लाल-भुरी और फिर सफेद थोड़ी सी सफेद होती है.
  14. भालू ऐसे स्तनपाई है जो कि रंगो में भी देख सकते है जबकि ज्यादातर रंगों की जगह तरंगों का उपयोग करते हैं.
  15. संसार का सबसे साधारण भालू भूरा भालू है.
  16. जब भालु सहवास करते है जब मादा भालु निश्चेति अंडो को अपने गर्भ में नही डालती बल्कि उन्हें विकसित होने के लिए कुछ महीने अपने अंदर ही पर गर्भ से बाहर रख लेती है.
  17. एक तैरने वाला ध्रुवीय भालु पाने में 8 फुट लंम्बी छलांग लगा सकता हैं.
  18. एक पैंडा भालु के एक अतिरिक्त अंगुठा होता है जो कि असल में उनकी कलाई की उभरी हुई हड्डी होती है. यह उन्हें बाँस को उखाड़ने में सहायता करती है जो कि वह खा जाते हैं .एक पैंडा भालु एक दिन में 21 किलो तक बाँस खा सकता है.
  19. दैत्य पैंडा भालु का सिर बहुत बड़ा होता है. वैज्ञानिक मानते है कि यह इनके मजबूत जबड़े और गर्दन की मासपेशीयों के लिए होता है जो क इन्हें बाँस चबाने में सहायता करते है. बाँस इनकी खुराक का 99 प्रतीशत हिस्सा है. और बाकी का एक प्रतीशत बाँस पर लगे कीड़े होते है जा फिर माँस जो इनको कहीं पर मिल जाता है.
  20. दक्षिणी अमेरिकी भालुयों का पसंदीदा भोजन दीमक है . इन भालुयो के अगले दाँत नही होते इसलिए यह छत्तों में फसें दीमको और कीड़ों को आसानी से चूस लेते हैं.
  21. अब तक ज्ञात ज्यादातर भालू सब कुछ खा सकते है. यहां तक कि स्नोमोबाइल सीटें, इंजिन तेल और रबड़ के बूट भी.
  22. अमेरिका के लगभग 98 प्रतीशत ग्रजीली भालू अलास्का में रहते है.
  23. एक ध्रुवीय भालु बिना आराम किए 160 किलोमीटर तक तैर सकता है.
  24. भालू भी मनुष्यों की तरह अच्छी तरह से देख सकते है. पर उनके सुनने की समता हमसे थोड़ी कम होती है. पर भालुयों के सुंघने की समता मनुष्य से 100 गुना ज्यादा होती है. ध्रुवीय भालु 32 किलोमीटर दूर की गंध को आसानी से सुंघ सकते है. इसके इलावा वह बर्फ के अंदर तीन फीट तक गड़ी संमुद्री मछली की गंध तो आसानी से सुंघ सकती है.
  25. ‘Bear’ अंग्रजी का एक पुराना शब्द है जिसका अर्थ है – ‘चमकता भुरा.’
  26. भालू संयुक्त रसीया पार्टी का चिन्ह है जो कि उनकी शक्ति और गौरव को दर्शाता है. इसके इलावा कई परी कहानीयों और मिथक कहानीयों में भी भालु आता है.
  27. भालू, कुत्ते, भेडीए, लोमड़ी यह सब एक ही पुर्वज की भिन्न-भिन्न प्रशाखाएँ हैं.
  28. ध्रुवीय भालू, भालूयों की सबसे बड़ी प्रजाति है .एक बार ध्रुवीय भालु का वजन 480 किलो तक होता है जो आठ व्यस्क मनुष्यों के बराबर है. पर मादा ध्रुवीय भालू नर से 50 प्रतीशत छोटी होती है.
  29. ध्रुवीय भालू, भालूयों की एकलौती प्रजाति है जो कि समुद्री स्तनपायी है.
  30. कुछ ऐसे काले भालु भी होते है जो कि सफेद भालू में बदल जाते है. यह भालू बहुत दुर्लभ होते है. कुछ अमरीकी मानते है कि इनके पास कोई दैवी शक्ति होती है.

  31. कई सालों तक पहले के वैज्ञानिक यह मानते रहे थे कि दैत्य पैंडा भालू कोई भालू की प्रजाति नही है बल्कि यह किसी माँसाहारी से संम्बंन्धित प्रजाति है. मगर DNA प्रमाणों के बाद यह पुरी तरह से साबित हो गया है कि दैत्य पैंडा भालुयों की प्रजाति ही है.
  32. सुर्य भालू सबसे छोटे भालू होते है और इन्हें कई बार हनी भालू भी कह दिया जाता है. एक औसतन सुर्य भालू का आकार एक बड़े कुत्ते जितना होता है.
  33. भालुयों की आठ प्रमुख्य प्रजातियों में चार उत्तरी गोलाअर्ध में और चार दक्षिणी गोलाअर्ध में रहती हैं.
  34. उत्तरी अमरीका में भालुयों की आठ किस्मों में से तीन रहती है- भुरे भालू, अमरीकी भालु और ध्रुवीय भालु. दुनिया के लगभग एक तिहाई भालू उत्तरी अमेरिका में ही रहते हैं.
  35. ध्रुवीय भालू भू-मध्य रेखा के उत्तर में आर्कटिक में रहते है. लगभग 21,000 से 28 हजार ध्रुवीय भालू आर्कटिक में रहते हैं. अंटारकटिका में तो पेंगुऊन रहते हैं.
  36. भालूयों का क्रमिक विकास छोटे से बड़ा हुआ. पहले के भालू महज एक कुत्ते के आकार के थे. अब तक का सबसे पुराना ज्ञात भालु Dawn bear है जो दो करोड़ साल पहले धरती पर रहता था और उसका आकार महज एक छोटे कुत्ते के जितना है.
  37. भालू कभी भी ऑस्ट्रेलीया और अंटारकटिका में नही रहे. हालांकि अफ्रीका में भी वर्तमान समय में भालू नही पाए जाते. पर भालुयों के अधिकतर कंकाल अफ्रका से ही मिले है. वैज्ञानिक अभी भी अनजान है कि यह अब अफरीका में क्यों नही रह रहे.
  38. दक्षिण अमरीकी भालु एकलौते भालू है जो कि रात्रि को अधिक क्रियाशील होते हैं.
  39. ध्रुवीय भालुयों की चमड़ी के एक इंच वर्ग के क्षेत्र में 9600 के लगभग बाल होते हैं.
  40. ज्यादातर भालू बिना खाल के जन्म लेते हैं. पर सिर्फ ध्रुवीय भालु और दैत्य पैंडा ही पतली सफेद खाल के साथ पैदा होते है.
  41. भालूयों के पंजे आकुंचनसील होते है. मतलब कि वह अपने पंजो को कुत्तो और बिल्लीयों की तरह मोड़ नही सकते.
  42. हालांकि ज्यादातर भालुयों के पैर नंगे होते है पर ध्रुवीय भालुयों की उंगलीयों के बीच-बीच कुछ बाल होते है. भालू अपनी ज्यादातर गर्मी अपने पैरों से ही गवाते हैं.
  43. पैंडा को छोड़ सभी भालू अपने पैर सपाट करके ही चलते है जैसा कि ऊपर बताया गया है कि वह अपने पंजों को मोड़ नही सकते. जबकि कुत्ते, बिल्ली जैसे प्राणी अपने पंजो की उंगलियों को नीचे लगाकर चलते हैं.
  44. भालूयों के पैरों के अगले पंजो, पिछले पंजो से अधिक बड़े होते है.
  45. भालू सबसे बड़े परभक्षी है जो कि माँस और पौधो को लगातार खा सकते है. इसके कारण वह माँस और पौधे खाने के लए अलग-अलग प्रकार के दाँतो का प्रयोग करते हैं.
  46. Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s